Advertisements

Pregnancy me Gud Khane ke Fayde | प्रेगनेंसी में गुड़ कब और कैसे खाएं | 

Advertisements

 Pregnancy me Gud Khane ke Fayde : गुड़ का सेवन सेहत के लिए लाभदायक होता है। कई लोगों को गुड बेहद पसंद होता है। अधिकतर लोग खाने के अलावा कई सारे खाद्य पदार्थ में गुड़ का उपयोग करते हैं। लेकिन कई सारे लोग ऐसे हैं जो गुड़ के स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानना चाहते है।

जैसे कि गुड़ खाना चाहिए या नहीं खाना चाहिए, गुड खाने से क्या होता है, गुड कितनी मात्रा में खाना चाहिए, , गुड़ खाने से क्या फायदे मिलते हैं, और प्रेगनेंसी में गुड खाने के फायदे क्या है, कौन से महीने में गर्भवती महिलाओं को गुड़ का सेवन करना चाहिए।  तो चलिए जानते हैं, प्रेगनेंसी में गुड़ कब और कैसे खाएं |

 प्रेगनेंसी में  महिलाओं को खास तौर पर खाने-पीने का ध्यान रखना होता है।   क्योंकि कई सारे खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं जिससे मां के अलावा मां के गर्भ में पल रहे शिशु को भी  परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। 

इसीलिए गर्भवती महिलाओं को सही जानकारी और सही मात्रा में हुई किसी चीज का सेवन करना चाहिए।  तो गुड़ की बात करें तो गुड़ की तासीर गर्म होती है।  और प्रेगनेंसी में अधिक गर्म चीजों का सेवन करने से गर्भवती महिलाओं में मिसकैरेज का खतरा बढ़ जाता है। 

Advertisements

इसे भी पढ़ें : Kaccha Kela Khane ke Fayde

प्रेगनेंसी में गुड़ खाने के फायदे |

गुड़ का सेवन प्रेगनेंसी में बहुत फायदेमंद होता है।  लेकिन प्रेगनेंसी में गुड़ सही तरीके से और सही मात्रा में खाना बेहद जरूरी हो जाता है। तो चलिए सबसे पहले जानते है pregnancy me gud khane ke fayde  क्या है। 

बच्चे के विकास के लिए जरूरी :

 बच्चे के विकास के लिए  गर्भवती महिला को फोलिक एसिड की बहुत ज्यादा जरूरत होती है । गुड में फोलिक एसिड अच्छी मात्रा में पाया जाता है जो पेट में पल रहे बच्चे के लिए बहुत जरूरी होता है।  इससे बच्चे का विकास भी बहुत अच्छी तरह होता है। 

कैल्शियम की कमी दूर करें :

 अक्सर गर्भावस्था के दौरान कैल्शियम की कमी हो जाती है।  गुड में कैल्शियम अच्छी मात्रा में पाया जाता है। जो प्रेगनेंसी के दौरान बच्चे और मां के लिए बहुत जरूरी होता है। 

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करता है :

 गुड़ का सेवन ब्लड प्रेशर को कंट्रोल कर सकता है।  गुड में पोटेशियम मौजूद होता है, प्रेगनेंसी के दौरान  महिलाओं का ब्लड प्रेशर बढ़ता और घटता रहता है।  इसीलिए, इस दौरान गुड़ का सेवन गर्भवती महिलाओं का  ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मदद करता है। 

खून की कमी दूर करें:

अक्सर देखा गया है कि प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं में खून की कमी हो जाती है। इस दौरान हीमोग्लोबिन  कम होने की भी शिकायत होती है।  गुड़ का सेवन  रेड ब्लड सेल्स को बढ़ाता है जिससे आप में खून और हीमोग्लोबिन की कमी कोई  होने नहीं देता। 

सूजन दूर करें :

 गर्भवती महिलाओं को पैरों में सूजन की समस्या आम होती है। गुड़ का सेवन करने से इनकी यह समस्या दूर होती है। 

प्रेगनेंसी में गुड कब खाना चाहिए :

 प्रेगनेंसी के दौरान अगर आप गुड़ का सेवन करना चाहते है।  तो आपको यह जानना जरूरी है कि गुड़ की तासीर गर्म होने की वजह से आप 3 महीने के बाद ही गुड़ का सेवन करें।  3 महीने से 8 महीने तक आप गुड़ का सेवन कर सकते हैं लेकिन ध्यान रहे आपको गुड़ को बहुत ही कम मात्रा में सेवन करना है। 

 प्रेगनेंसी में गुड़ कैसे खाएं :

प्रेगनेंसी के दौरान आम गुड़ का सेवन करना चाहते हैं तो सुबह के और शाम के खाने के बाद आप छोटे से गुड़ के टुकड़े को खा सकते है। आप गुड को चाय या दूध में मिलाकर भी ले सकते है।  इससे आपको गुड़ के बहुत ज्यादा फायदे मिलेंगे।  जैसे कि.. 

  • सीने की जलन  कम करता है। 
  • खाने को अच्छे से पचाने में मदद करता है। 
  • पेट और अपच संबंधी समस्या को दूर करता है। 

इसके अलावा  जब प्रेगनेंसी में 9  महीने पूरे हो जाते हैं।  तभी गर्भवती महिला को गर्म चीजों का सेवन करना जरूरी हो जाता है।  ऐसे में आप गुड़ का सेवन कर सकते हैं। आप गुड में ड्राई फ्रूट्स मिलाकर या  गुड़ से बने तिल के लड्डू बनाकर भी सेवन कर सकते हैं। 

पथरी की समस्या के लिए: Patharchatta Plant Benefits in Hindi

 निष्कर्ष :

 प्रेगनेंसी में गुड़ खाना  मां और बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है।  लेकिन इसकी सही जानकारी और सही मात्रा में ही सेवन करना चाहिए।  अन्यथा आपको इसके फायदे की जगह नुकसान देखने को मिल सकते है। 

आशा करता हूं, Pregnancy me Gud Khane ke Fayde क्या है? और इससे जुड़े सभी डाउट्स क्लियर हो गए होंगे।  यदि आप इसके बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो हमें कॉमेंट्स में पूछ सकते हैं। 

Leave a Reply

Advertisements