Advertisements

Shilajit ke Fayde कईं रोगों को करें दूर | शिलाजीत के फायदे |

Advertisements

 shilajit ke fayde कई रोगों को दूर करने में बेहद असरदार है । आयुर्वेदिक औषधि में फायदेमंद शिलाजीत के बारें में जितनी प्रशंशा करे उतनी कम ही होगी। लेकिन, कई लोग ऐसे हे जो शिलाजीत के फायदे के बारें में नहीं जानते।

दुनिया में अक्सर लोग स्वस्थ रहने के लिए तरह-तरह के नुस्खे आजमाते रहते हैं। जैसे कई लोग multivitamins, tonic, protein powder weight loss करने के लिए green tea, omega 3 acids आदि का सेवन करते हैं।

लेकिन क्या हो, अगर आपको कोई ऐसी चीज मिले जिसके एक चुटकी सेवन से ही आपकी कई प्रकार की शारीरिक समस्याएं का इलाज उस चीज में ही मिल जाए।

जी हां दोस्तों, silajit khane ke fayde भी किसी से कम नहीं हैं। क्योंकि प्राचीन काल से आयुर्वेद में शिलाजीत का प्रयोग कई प्रकार के रोगों से लड़ने और शारीरिक तथा मानसिक शक्ति बढ़ाने मैं होता है।

ये बिलकुल सच है। तो चलिए आज हम shilajit khane ke fayde, upyog aur nuksan के बारें में विस्तार से जानंगे।

शिलाजीत की जानकारी : 

(shilajit benefits in hindi) शिलाजीत  एक बहोत ही फायदेमंद आयुर्वेदिक औषधि है । इसे पर्वत का पसीना भी कहा जाता है, जिस तरह पेड़ों से हमें गोंद प्राप्त होता है, उसी तरह शिलाजीत को पहाड़ों से निकलने वाला एक प्रकार का गोंद कहा जा सकता है।

खासकर शिलाजीत हिमालय और तिब्बत के पहाड़ों की चट्टानों में अधिक पाया जाता है। इसमें पेड़, पौधों और पहाड़ों के चट्टानों में पाए जाने वाले प्रकृति खनिज पाए जाते हैं।

हिमालय के पहाड़ों से मिलने वाला प्राकृतिक शिलाजीत ही सबसे उत्तम और असरदार माना जाता है। चट्टानों से प्राकृतिक शिलाजीत को निकालने के बाद इसकी सारी गंदगी को filter किया जाता है ।

इस तरह इसमें से शुद्ध शिलाजीत को प्राप्त किया जाता है। शिलाजीत मिलने के बाद इसे कच्चा या जड़ी – बूटी के साथ मिलाकर pack करके बाजार में बेचा जाता है।

शिलाजीत की तासीर :

शिलाजीत की तासीर गर्म होती है । इसीलिए इसे ठंड के मौसम में इसका अधिक सेवन करना चाहिए। गर्मी के मौसम में  हफ्ते में 3 दिन यानी एक दिन छोड़कर इसका इस्तेमाल करना चाहिए।

Shilajit Sevan विधि | शिलाजीत सेवन विधि | कैसे खाएं

शिलाजीत एक बहुत Powerful औषधि है । इसीलिए लगातार इसका 3 महीने से ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। 3 महीने के बाद 1 महीने का गैप लेकर आप इसका इस्तेमाल शुरू कर सकते हैं।

शिलाजीत क्या है?

शिलाजीत का नाम सुनते ही अधिकतर लोगों में पुरुषों की कमजोरी दूर करने और ताकत बढ़ाने वाली जड़ी – बूटी का ख्याल मन में आता है। लेकिन शिलाजीत (shilajit ke fayde in hindi) इन सब से कई अधिक और फायदेमंद है।

शिलाजीत आयुर्वेद की ऐसी उपयोगी और प्राकृतिक औषधि है । जिसके उपयोग से कई प्रकार की ऐसी शारीरिक और मानसिक समस्या का इलाज किया जा सकता है, जिसका इलाज आज भी चिकित्सा विज्ञान में संभव नहीं है।

शिलाजीत का उपयोग शरीर में अंदरूनी कई प्रकार की समस्या के इलाज से लेकर वजन बढ़ाने, वजन कम करने और शारीरिक शक्ति बढ़ाने तक बहुत उपयोगी आयुर्वेदिक औषधि है।

शिलाजीत के पोषक तत्व :

शिलाजीत में 85 तरह के Active Nutrients पाए जाते हैं। इसीलिए इसके उपयोग से सभी प्रकार के Supplements को सिर्फ एक शिलाजीत से replace किया जा सकता है।

शिलाजीत में सबसे Powerful Nutrients  फुलविक एसिड (fulvic acid) की मात्रा सबसे अधिक पाई जाती है और यही एक Nutrients शिलाजीत को इतना शक्तिशाली बनाता है ।

यही फुलविक एसिड (fulvic acid) हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है । क्यों की यह हमारे शरीर के (cellular membrane) कोशिकीय झिल्ली से गुजर जाता है। इसीलिए किसी भी दूसरी औषधि से इसका हमारे शरीर पर सबसे अधिक और जल्दी असर होता है।

shilajit ke fayde इतने असरदार है, के कुछ ही दिन के शिलाजीत के इस्तेमाल के बाद इसका आपके बाल, त्वचा, शारीरिक शक्ति, पाचन और दिमाग पर असर दिखना शुरू हो जाता है।

गंजापन, एग्जिमा, सोरायसिस और दाग जैसी समस्यां को तेजी से रोकने के लिए यह बहुत असरदार औषधि है।

आप अपने जीवन में किसी स्वास्थ्य संबंधी समस्या से परेशान हैं । जैसे मोटापा, तनाव, कमजोरी के चलते आपका काम में मन नहीं लगता हो तो आपको जल्द से जल्द शिलाजीत का सेवन शुरू कर देना चाहिए।

शिलाजीत इतनी उपयोगी औषधि है जिसके पहले ही प्रयोग से यह शरीर में अपना असर दिखाना शुरू कर देता है। इसके खास बात यह है की शिलाजीत का उपयोग पुरुष, महिला बच्चे, और बूढ़े सभी कर सकते है।

शिलाजीत खाने का तरीका :

अलग-अलग उम्र के लोगों को शिलाजीत का किस तरह सेवा करना चाहिए, इसे किस किस समय और कितनी मात्रा में खाना चाहिए, इसे और पुरुष की किन-किन समस्याओं शिलाजीत की मदद से पूरी तरह ठीक किया जा सकता है।

एक वयस्क आदमी एक बार में ढाई सौ से 250 मिलीग्राम और ज्यादा से ज्यादा 600 मिलीग्राम शिलाजीत का सेवन कर सकता है। इससे अधिक इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

Shilajit ke Fayde Khane ka Tarika : शिलाजीत कैसे ली जाती है?

शिलाजीत को निकालने के लिए चम्मच के निचले भाग को डुबोकर बाहर निकाल लें, यह इसकी सबसे अच्छी मात्रा होती है, इसे आप पानी या दूध में मिलाकर सेवन कर सकते हैं।

शिलाजीत का सेवन सुबह खाली पेट नाश्ते के आधे घंटे पहले करना सबसे अच्छा माना जाता है। क्योंकि खाना खाने के बाद खाने में मिलने से इसका असर बहुत कम हो जाता है।

शिलाजीत का सेवन किसे नहीं करना चाहिए :

  1. गर्भवती महिलाओं को शिलाजीत का सेवन नहीं करना चाहिए।

2. 12 साल के से कम उम्र के बच्चे को शिलाजीत नहीं देना चाहिए।

  1. जिन व्यक्ति में आयरन की मात्रा बढ़ी हुई है, उन्हें भी शिलाजीत का सेवन नहीं करना चाहिए।

४. हाई ब्लड प्रेशर के रोगी और दिल के मरीजों को भी शिलाजीत के सेवन से बचना चाहिए।

  1. आप शिलाजीत का सेवन करतें है तो बुखार होने पर या किसी प्रकार के इंफेक्शन के दौरान शिलाजीत का सेवन बंद कर देना चाहिए।

Shilajit Khane ke Fayde :

१ ) हड्डियां मजबूत करें :

शिलाजीत में मौजूद calcium, magnesium, nickel, strontium से हड्डियां मजबूत होती है। इसे Arthritis और osteoporosis जैसी बीमारियों को दूर करके राहत प्रदान करता है।

२) रोगप्रतिरोघक क्षमता बढ़ाये :

शिलाजीत में मौजूद Vitamin B, Fulvic Acid और Copper हमारी immune system को मजबूत बनाता है । जिससे हमारे शरीर के घाव बहुत जल्दी भरने लगते हैं, और बुखार और बीमारियां जैसे इंफेक्शन औरों के मुकाबले हमारे शरीर में अधिक तेजी से ठीक होने लगते है।

३) stamina बढ़ाए :

शिलाजीत से हमारे शरीर का stamina बहुत ज्यादा बढ़ जाता है । इसीलिए sports men, military और Olympics से जुड़े लोग भी इसका इस्तेमाल करते हैं। इसे workout के पहले strength बढ़ाने के लिए और workout के बाद body recovery के लिए भी इस्तमाल किया जाता है।

४) कमजोरी दूर करेने में फायदेमंद :

जिन लोगों में कमजोरी के चलते थकान और आलस महसूस होती है, उन्हें सुबह के समय शिलाजीत का सेवन जरूर करना चाहिए। इससे  उनमें शक्ति का संचार होता है ।

५) स्वास्थ को बेहतर बनाए :

शिलाजीत में आयरन की मात्रा अधिक होती है जो कि शरीर में ऑक्सीजन लेवल को बढ़ाने में मदद करती है। शिलाजीत से नसों में blockage, cholesterol और weakness दूर करने के लिए जो बहुत उपयोगी औषधि मानी जाती है।

६) शारीरक शक्ति बढ़ाने में उपयोगी :

शिलाजीत के सेवन से पुरुषों में शुक्राणु की कमी, नपुंसकता, शीघ्रपतन की समस्या, स्त्री और पुरुष में आई कमजोरी इसके इस्तेमाल से पूरी तरह ठीक हो जाती है।

७) त्वचा निखारे :

shilajit powerful antioxidant होने की वजह से त्वचा पर आयी झुर्रियों को कम कर चेहरे को सुंदर बनाता है ।

८) डायबिटीज में शिलाजीत के फायदे :

शुगर में शिलाजीत के फायदे बहुत फायदेमंद है । क्योंकि शिलाजीत में मौजूद magnesium खून में glucose के level को control करता है । इसीलिए type 2 वाले मधुमेह के रोगियों को शिलाजीत का सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

९) मानसिक शक्ति बढ़ाएं :

शिलाजीत हमें दिमागी स्थिरता प्रदान करता है । इसीलिए काम में मन ना लगना, मानसिक शक्ति मैं कमी, याक शक्ति का कम होना, Concentration में कमी जैसी समस्याओं में शिलाजीत का सेवन से फायदा होता है।

१०) महिला रोगों में लाभ करें :

महिलाओं में Period से जुड़ी समस्या में भी शिलाजीत बहुत फायदेमंद होता है। इन समस्याओं जैसे ज्यादा bleeding होना, पेट में ऐंठन और अनियमित मासिक धर्म जैसी समस्याएं शिलाजीत के सेवन से खत्म होती है।

११) बांझपन दूर करे :

जिन महिलाओं को बांझपन जैसी समस्या हो उन्हें शिलाजीत का सेवन बहुत फायदा करता है।

१२) (Tension) तनाव दूर करे :

Research में पता चला है कि शिलाजीत depression, anxiety, stress को काफी हद तक कम करता है। जो लोग बहुत उदास होते हैं जिन्हें हमेशा Tension रहता है स्वभाव में चिड़चिड़ापन और जो लोग चिंता ओं से घिरे रहते हैं उन लोगों को शिलाजीत का सेवन शांति प्रदान करता है।

निष्कर्ष :

शिलाजीत एक बहुत ही शक्तिशाली और फायदेमंद औषधि है । इसकी सही जानकारी और उपयोग से आपभी आपकी सवास्थ संबधी समस्यां को दूर कर सकतें है ।

आशा करता हूँ, Shilajit ke Fayde और इससे जुडी मेरे द्वारा दी गयी सभी जानकारी आपको पसंद आयी होगी। तो आपभी शिलाजीत का उपयोग करके heathy जीवन जी सकतें है ।

Health संबंधी ऐसी ही उपयोगी जानकारी हिंदी में पाने के लिए हमारी वेबसाइट Hindiplant से जुड़े रहें ।

Disclaimer :

शिलाजीत बहोत ही पावरफुल औषधि है । इसीलिए ये जितनी फायदेमंद है उतनी ही इसके नुकसान भी संभव है । इसका प्रयोग कररने से पहले इसकी सही जानकारी और मात्रा का ज्ञान होना आवशयक है । यह आर्टिकल आपकी जानकारी के लिए है।

इसीलिए इस आर्टिकल में पढ़कर आप  किसी भी प्रकार की आपकी स्वास्थ संबंधी समस्यां में इसका प्रयोग करने से पहले किसी डॉक्टर या चिकित्सक की सलाह जरूर लेनी चाहिए ।

Related Article :

Advertisements

Leave a Reply

दूध पीने के फायदे | Benefits of Drinking Milk in Hindi प्राणायाम के फ़ायदे | Benefits of Pranayama in Hindi सौंफ खाने के फायदे | Saunf ke Fayde Hindi Banyan Tree in Hindi | बरगद के पेड़ के फायदे Anti Aging Dry Fruits Hindi | एंटी एजिंग ड्राई फ्रूट्स हिंदी
%d bloggers like this: