मानसून में बालों की देखभाल के घरेलू नुस्खे | How To Take Care Of Hair In Monsoon Home Remedies In Hindi

How To Take Care Of Hair In Monsoon Home Remedies In Hindi: लेख में आप सभी का स्वागत है।आज हम बात करेंगे मानसून में बालों की देखभाल के घरेलू नुस्खे। मानसून आते ही कई लोगों को ख़ुशी होती है तो कई लोगों को त्वचा और बालों से जुडी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

मानसून की बारिश अपने साथ कई सारी समस्याएं लेकर आती है। त्वचा और बालों से जुडी समस्यां ज्यादातर इसी मानसून के मौसम में शुरू होती हैं। मानसून में लंबे समय तक स्कैल्प का गीला रहता है जो बालों की कई समस्याओं को जन्म देता है। जैसे बालों का झड़ना और टूटना औरकमजोर होना।

तो आप भी मानसून के मौसम में कुछ ऐसी ही समस्यां का सामना करते है तो यह यह लेख आप जरूर पढ़िए। जिससे आप मानसून में बालों की देखभाल के घरेलू नुस्खे  के विषय में विस्तार से जानोगे। जो जानकारी आपके बालों की समस्यां दूर करने मे आपकी मदद करेगा, तो चलिए शुरू करतें है ( हेयर केयर टिप्स हिंदी )

 इसे भी पढ़ें : 5 Hair Care Tips : अपने बालों को लंबा और घना कैसे करें? 

How To Take Care Of Hair In Monsoon Home Remedies In Hindi | मानसून में बालों की देखभाल के घरेलू नुस्खे

मानसून में हम आपको बालों की केयर के कुछ आसान टिप्स देते हैं जो मानसून में आपके बालों को स्वस्थ रखने में मदद करेंगे।

  • मानसून में सबसे पहले आप इस बात का ध्यान रखें कि आपके बाल हमेशा सूखे हों। अगर बारिश में भीगने से आपके बाल गीले हो गए हैं, तो उन्हें शैम्पू से धो कर अच्छी तरह सुखा लें और साफ कंघी से अपने बालों में कंघी करें।
  • मानसून के दौरान बालों में कम तेल लगाएं कम से कम हफ्ते में दो बार बालों में हेयर केयर oil लगाएं। क्योंकि बारिश के मौसम में पहले से ही काफी नमी होती है और ज्यादा तेल लगाने से आपके बाल खराब हो सकते हैं।
  • लंबे समय तक गीले बाल या सिर की गीली त्वचा (स्केल्प) के कारण फंगल इंफेक्शन का खतरा भी बना रहता है। इससे बचने के लिए कोई भी आपका पसंदीदा एंटी-माइक्रोबियल  हर्बल शेम्पू का इस्तेमाल करें। बाल धोने के बाद आप कंडीशनर जरूर लगाएं ताकि बालों में बिना खींचे आसानी से कंघी हो सकें। मानसून के मौसम में बाल रूखे हो जाते हैं, इसलिए कंडीशनर का इस्तेमाल करना इससे बचने का एक अच्छा तरीका है।

इन सब सावधानियों के साथ आपको अपने खान-पान (डाइट) पर भी ध्यान देना चाहिए, इसीलिए अपना आहार नियमित रखें और  फास्ट-फूड का सेवन न करें। आप अपने आहार में प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों  जैसे गाजर, दालें, हरी सब्जियां, डेयरी उत्पाद आदि को जरूर शामिल करें। यदि आप विजिटेरियन नहीं हैं तो अंडे का आहार भी जरूर लें। 

  • बाल धोते समय इस बात का ध्यान जरूर रखें कि पानी ज्यादा गर्म नहीं होना चाहिए। क्योंकि अधिक गर्म पानी आपके बालों को ज्यादा नुकसान पहुंचाता है।
  • बारिश के मौसम में बालों को स्वस्थ रखने के लिए, तिल का तेल और एलोवेरा के हेयर पैक बहुत फायदेमंद होते हैं। इसके लिए हमें चाहिए तिल का तेल एलोवेरा जेल २ बड़े चम्मच हो सके तो आप ताजा एलोवेरा जेल लें।

या फिर एक कटोरी में बाजार का एलोवेरा जेल लेकर इसमें ३ चम्मच तिल का तेल डालकर अच्छी तरह मिला लें आप अपने बालों की लंबाई के अनुसार तेल की मात्रा को बढ़ा या घटा सकते हैं। जब एलोवेरा जेल और तिल का तेल अच्छे से मिक्स हो जाए, तब पेस्ट को अपने स्कैल्प और बालों पर लगाएं, फिर१  घंटे बाद कसी भी माइल्ड शैंपू से बालों को धो लें।

  • इस पैक का इस्तेमाल करने के कुछ दिनों में ही आपके बालों में फर्क महसूस होने लगेगा। इस पैक को नहाने से १  घंटे पहले लगाएं। इसके और अच्छे  परिणाम के लिए इस हेयर पैक को हफ्ते में २ से ३ बार लगाएं।
  • मानसून में यह पैक आपके बालों के टूटने और झड़ने को नियंत्रित करता है और आपके बालों को स्वस्थ और चमकदार बनाता है।

इसे भी पढ़ें : Alopecia : एलोपेसिया क्या है, प्रकार, लक्षण और घरेलु इलाज।

निष्कर्ष :

मानसून में बालों और त्वचा की परेशानी होना एक सामान्य समस्यां है। आप सही जानकारी और उपयोग से आपकी इन समस्यांओं का बहोत ही आसानी से घरेलु नुस्खों की मदद से दूर कर सकतें है।

आशा करता हूँ, How To Take Care Of Hair In Monsoon Home Remedies In Hindi लेख और बालों से जुडी अन्य सवालों के बारें में हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको अच्छी लगी होगी।

यदि आपको मानसून में बालों की देखभाल के घरेलू नुस्खे से कोई लाभ होता है। तो इस जानकारी को अन्य के साथ जरूर share करें।

इस लेख से संबंधित कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमैंट्स करके जरूर बातएं। ऐसी हो रोचक और उपयोगी जानकारी के लिए हमारी वेब साइट Hindiplant से जुड़े रहें।

Desclaimer 

यह ब्लॉग स्वास्थ्य और संबंधित विषयों के बारे में सामान्य जानकारी और चर्चा प्रदान करता है। इसे चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार के विकल्प के रूप में नहीं माना जाना चाहिए या इसका उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। यह ब्लॉग किसी भी चिकित्सा, नर्सिंग या अन्य पेशेवर स्वास्थ्य देखभाल सलाह, निदान या उपचार का अभ्यास नहीं करता है। हम इस ब्लॉग या वेबसाइट के माध्यम से स्थितियों का निदान नहीं कर सकते हैं, या उपचार की विशिष्ट सिफारिशें नहीं कर सकते हैं।

यदि आपको या किसी अन्य व्यक्ति को कोई चिकित्सीय चिंता है, तो आपको अपने रजिस्टर्ड मेडिकल डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। या तुरंत अन्य पेशेवर चिकित्सा उपचार की तलाश करनी चाहिए। इस ब्लॉग, वेबसाइट या किसी भी लिंक की गई आर्टिकल में आपने जो कुछ पढ़ा है, उसके कारण कभी भी पेशेवर डॉक्टर की चिकित्सा और सलाह लेने में देरी न करें।

संबंधित विषय :

Leave a Reply

%d bloggers like this: