नीम के पत्ते को मुंह पर लगाने से क्या होता है?

आज के व्यस्त समय में सभी की जीवनशैली व्यस्त होती जा रही है। इसलिए सभी बाहरी खान – पान का उपयोग अधिक कर रहें है। साथ ही बढ़ता पॉल्यूशन सभी के जीवन पर भी असर कर रहा है।

ख़ास कर बाहरी खान पान अधिक मसाले और तेल युक्त चीजों का सेवन आपके शारीरक स्वास्थ के साथ आपकी त्वचा को भी नुकसान पहुंचाने में कोई कसर बाकी नहीं रखता। आप अपनी शारीरक सवास्थ की देख-भाल के लिए किसी डॉक्टर की सलाह फौरन ले  लेते है।

किन्तु अपनी त्वचा के लिए किसी स्किन स्पेशलिस्ट के पास बहुत कम जाना पसंद करतें है। तो क्यों न आप अपनी त्वचा की देख – भाल घर पर ही करो।

यह लेख इसी के बारें में है के आप किस तरह आसानी से हर जगह मिलने वाले नीम के उपयोग से अपनी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रख सकतें है। तो चलिए शरू करते है आज का लेख नीम के पत्ते को मुंह पर लगाने के फायदे। 

और पढ़ें >>

नीम के पत्ती का उपयोग :

नीम के पेड़ का हर हिस्सा जैसे फल, फूल, पत्ते, जड़, छाल सभी हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। नीम का पेड़ पूरी तरह से गुणों की खान है। इस पेड़ में लगभग हर बीमारी से लड़ने की शक्ति मौजूद है।

 

निम का उपयोग ना केवल शारीरक बीमारियों से लड़ने में आपकी मदद करता है, बल्कि आपकी त्वचा के लिए भी  बेहद फायदेमंद औषधि के रूप में काम करता है।

 

इस लेख में हम शारीरक स्वास्थ की बात न करते हुवे सिर्फ आपकी त्वचा के लिए नीम किस तरह फायदेमंद है इसी के बारें में जानकारी लेंगे। तो आगे जानते है नीम की पत्ती को चेहरे पर कैसे लगाएं?

नीम की पत्ती को चेहरे पर कैसे लगाएं?

 

नीम की पत्तियों को मुंह पर लगाने के लिए आप नीम की पत्तियों का लेप बनाकर उपयोग कर सकतें है। आप इस लेप में कई तरह की चीजों क मिलकार नीम के फायदों के साथ इसके अन्य लाभ का भी फायदा उठा सकतें है। तो आईये जानते है नीम में आप कसी तह किन-किन चोजों को मिलाकर नीम के फायदे का उपयोग कर सकतें है।

 

नीम की पत्तियों में एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटीसेप्टिक गुण मौजूद होते हैं। जो आपकी त्वचा के लिए एक वरदान के रूप में काम करते हैं। इसलिए खूबसूरत त्वचा पाने से लेकर आपकी त्वचा संबंधी कई प्रकार की समस्यां को खत्म करने के लिए नीम का प्रयोग किया जाता है।

 

नीम की पत्तियों का लेप बनाने के लिएनीम की ताजी पत्तियां और दूध मिक्सर में डालकर नाम मात्र का पानी मिलाकर

पीस लें और इसमें दही या बेसन मिलाकर लेप बना कर इस लेप को अपने चहेरे पर लगा सकतें है।

 

नीम के पत्ती के फायदे :

 

त्वचा सुन्दर बनाएं :

 

नीम की कुछ पत्तियों को संतरे के छिलकों के साथ पीस लें। इस पेस्ट में शहद, सोया मिल्क और दही मिलाकर इसका लेप बना लीजिए। इस लेप को सप्ताह में कम से कम ३ बार अपने चेहरे पर लगाएं।

 

इस प्रयोग से आप का रूप तो निखरेगा साथ ही इस से आपके सफेद दाग, काले दाग, चहेरे की झाईयां और त्वचा स्वस्थ बनाने में भी बहुत फायदेमंद होगा।

 

नीम पत्तियों में बेसन मिलाने से यह आपकी डेड स्किन को निकालने में काफी फायदेमंद होता है। और इसमें दही मिलाने से आपको इसके और भी फायदे मिलते है।

 

दही में भरपूर मात्रा में कैल्शियम मौजूद होता है जो आपकी त्वचा की देखभाल करने में काफी लाभदायक होता है। यह आपकी त्वचा के अंदर और बाहर दोनों तरफ से देखभाल करता है और आपकी त्वचा को सुंदर और चमकदार बनाता है।

नीम  पत्तियों को मुंह पर कैसे लगाएं :

 

आप दो से तीन चम्मच ऊपर बताए नीम के लेप लेकर साफ हाथों से अपने चेहरे और गर्दन पर लगा लीजिए। इस लेप को 20 से २५ मिनट तक सूखने दें। इस लेप को सूखने के बाद सादे पानी से अपना चेहरा धो लीजिए।

 

नीम पत्तियों से बना यह फेस पैक में हफ्ते में कम से कम 2 बार जरूर प्रयोग करें इसके उपयोग से आपको अपने चेहरे और त्वचा में काफी फर्क दिखाई देगा।

 

संबंधित विषय>>

तो इस तरह आप नीम की पत्तियों के उपयोग कर के घर पर ही आसानीसे फेस पैक बनाकर अपनी त्वचा की देखभाल कर सकतें है और अपने त्वचा को सुंदर तथा स्वस्थ बना सकतें है।

आप ने इस लेख में नीम के पत्ते चहेरे पर लगाने के फायदे के बारें में जानकारी ली अगर आप भी नीम की पत्तियों के विषय में जानकारी रखते  है तथा इस लेख से संबंधित आपके मन में कोई सवाल या सुझाव हो तो कमैंट्स में हमें जरूर बताएं।

आशा करता हूं नीम के पत्ते को मुंह पर लगाने से क्या होता है? लेख आपको अच्छा लगा होगा। तो कृपया इसे अन्य शोशियल मीडिया Facebook, Instagram और Whatsapp पर अपने दोस्तों तथा रिश्तेदारों के साथ जरूर शेयर करें।

हमारे धरती के पेड़, पौधे, वनस्पति और जड़ी-बूटी की रोचक तथा अमूल्य जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट Hindiplant  से जुड़े रहें।

Desclaimer 

यह ब्लॉग स्वास्थ्य और संबंधित विषयों के बारे में सामान्य जानकारी और चर्चा प्रदान करता है। इसे चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार के विकल्प के रूप में नहीं माना जाना चाहिए या इसका उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। यह ब्लॉग किसी भी चिकित्सा, नर्सिंग या अन्य पेशेवर स्वास्थ्य देखभाल सलाह, निदान या उपचार का अभ्यास नहीं करता है। हम इस ब्लॉग या वेबसाइट के माध्यम से स्थितियों का निदान नहीं कर सकते हैं, या उपचार की विशिष्ट सिफारिशें नहीं कर सकते हैं।

यदि आपको या किसी अन्य व्यक्ति को कोई चिकित्सीय चिंता है, तो आपको अपने रजिस्टर्ड मेडिकल डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। या तुरंत अन्य पेशेवर चिकित्सा उपचार की तलाश करनी चाहिए। इस ब्लॉग, वेबसाइट या किसी भी लिंक की गई आर्टिकल में आपने जो कुछ पढ़ा है, उसके कारण कभी भी पेशेवर डॉक्टर की चिकित्सा और सलाह लेने में देरी न करें।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: