अलसी ( Flax Seeds) खाने के फायदे और उपयोग के तरीके।

अलसी ( Flax Seeds) खाने के फायदे और उपयोग के तरीके

 अलसी ( Flax Seeds) खाने के फायदे और उपयोग के तरीके।

अलसी के बीज का उपयोग थोड़े  वर्षों  पहले तक   घर - घर में होता था। मगर अभी के समय में हम अलसी का उपयोग करना भूल गए है। क्यों की अलसी ( Flax Seeds) खाने के फायदे क्या है? यह शायद ही कोई जानता है। 

आपको यह जानना जरुरी है के अलसी आपके स्वास्थ के लिए बेहद फायदेमंद है। क्यों की इसमें इतने सारे पोषक तत्व मौजूद है। जो की हमारे शारीरिक स्वास्थ को बेहतर बनायें रखनें में बहुत उपयोगी माने जाते है। 

अलसी का सेवन और उपयोग यदि सही तरीके से किया जाय तो यह हमारे स्वास्थ को रोगों से लड़ने योग्य ही नहीं बनाता बल्कि कई रोगों को हमसे कोसों दूर भी रखता है। 

यदि आप अलसी खाने के फायदे और उपयोग के तरीके को नहीं जानते तो यह लेख आपको पूरा पढ़ना चाहिए। जिससे की आप भी अलसी के लाभ ( Flax Seeds benefits in hindi ) लें सकें। तो आईये हम इनको विस्तारसे जानें।

और पढ़ें >>

 क्या है अलसी ? 

अलसी का वैज्ञानिक नाम Linum usitatissimum है। इसे तीसी क्र नाम से भी जाना जाता है।  इसका पौधा दो से ढाई फुट ऊँचा होता है। जिनमें बीज रहता है। इसे ही अलसी कहा जाता है। इन बीजों से तेल निकलता है। अलसी के तेल का उपयोग भी हमारे स्वास्थ के लिए फायदेमंद है। 

अलसी के पोषक तत्व :

अलसी में अधिक मात्रा में पोषक तत्व होते हैं। इसमें ओमेगा ३  फैटी एसिड, पोटेशियम, मैग्नीशियम,  कैल्शियम, आयरन, विटामिन डी, विटामिन बी ६, विटामिन B १२ के साथ  इसमें मैगनीज और ज़िंक है।  इसके साथ इसमें प्रोटीन भी प्रचुर मात्रा में मौजूद है। 

अलसी गर्म होती है क्या?

 जी हाँ, अलसी की तासीर गर्म होती है। 

अलसी से क्या फायदे? 

अलसी हमारे स्वास्थ को कई तरीकों से उपयोगी है आये जानते है अलसी के फायदे और उपयोग के तरीके क्या है।

पाचन शक्ति मजबूत करते है अलसी के फायदे :

अलसी में बहुत ही अच्छी मात्रा में फाइबर मौजूद है।  फाइबर आपकी पाचन शक्ति को मजबूत करता है। तो आप भी अपनी पाचन शक्ति को मजबूत करने के लिए अलसी का उपयोग कर सकतें है। 

कब्ज के लिए अलसी?

कब्ज की परेशानी यदि आप दूर करना चाहते हो तो अलसी बहुत ही फायदेमंद है। क्यों की अलसी में मौजूद फाइबर कब्ज और पेट संबंधी सभी प्रकार की परेशानी को दूर कर पाचन शक्ति को भी मजबूत करता है। 

दिल के लिए फायदेमंद है अलसी :

अलसी आपके दिल को स्वस्थ बनाए रखने में भी बहुत फायदेमंद है। अलसी में मौजूद औषधीय गुण आपके दिल की धमनियों को सख्त होने से रोकती है। यह आपके ह्रदय की धमनियों में रूकावट होने नहीं देती। इससे दिल के  दौरे का खतरा भी काफी हद तक कम हो जाता। है। 

मधुमेह में अलसी के फायदे :

अलसी मधुमेह को नियंत्रित करने में बहुत मदद करती है। इसके साथ जिन लोगों को डायबिटीज की समस्यां नहीं है। वह भी अलसी का सेवन करते रहते हैं तो उनको भविष्य में मधुमेह की समस्यां नहीं होगी। 

और जिन लोगों को मधुमेह की परेशानी  है वह यदि नियमित अलसी का सेवन  करते है तो उनके खून में अलसी का सेवन शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करता  है। 

त्वचा को निखारते है अलसी के  फायदे :

अलसी में बहुत ही अच्छी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद है। जो आपकी त्वचा निखारने में बहुत लाभकारी  है। इससे त्वचा के दाग - धब्बे  और झुर्रियां दूर होती है। 

रक्त चाप नियंत्रित करते है अलसी  के गुण :                   

अलसी में मौजूद औषधीय गुण उच्च रक्तचाप को कम करती है।  क्योंकि इसमें पोटेशियम भरपूर मात्रा में होता है। पोटैशियम भरपूर मात्रा में होने के कारण यह हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में बहुत मदद करता है। 

अलसी के फायदे बालों के लिए :

बालों के लिए अलसी का सेवन बहुत ही फायदेमंद है। इससे आपके  बालों की इलास्टिसिटी बढ़ जाती है,बाल मजबूत हो जाते हैं और आपके बालों उनका टूटना कम हो जाता है। 

क्या अलसी से वजन कम होता है? 

जी हाँ, अलसी वजन  कम करने में बहुत मदद करती है। अलसी खाने के बाद पेट भरा - भरा रहता है। इसीलिए  अलसी के सेवन से भूख कम लगती है। इसी वजह से वजन कम होने लगता है। 

जोड़ों के दर्द में अलसी  के फायदे :

अलसी में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते है जो जोड़ों के दर्द और सूजन को कम करने में बहुत मदद करते हैं। इसलिए जिन लोगों को जोड़ो में दर्द रहता है सूजन रहती है उनको अलसी को अपने आहार में शामिल जरूर  करना चाहिए। 

अलसी कब खाएं?

अलसी का सेवन आप किसी भी समय कर सकतें है। मगर सुबह के समय अलसी का सेवन अधिक फायदेमंद होता है। क्यों की सुबह के समय आपका पेट खाली होता है। 

यदि खाली पेट किसी वस्तु का सेवन किया जाए तो उनका अधिक फायदा हमें दूसरे समय के मुकाबले देखने को मिलता है। 

जो लोग अपना वजन कम करना चाहते है। उन्हें भी अलसी का सेवन खली पेट होने पर ही करना चाहिए इससे उनको अलसी से मोटापा कम करने में काफी मदद मिलेगी। 

अलसी का सेवन कैसे करें?

यदि आप अलसी का सेवन करना चाहते हैं तो इसे अच्छी तरह चबा चबाकर खाएं। नहीं तो आपको अलसी के फायदे नहीं मिलेंगें। क्यों की अलसी के छिलके आपके पेट में फ़ैल कर आपको इसके फायदे नहीं देंगे। 

आप अलसी का पाउडर बनाकर भी सेवन कर सकतें है। अलसी के बीज के मुकाबले ये आपको अधिक फायदा देंगे। 

अलसी के नुकसान :

अलसी आपके स्वास्थ को बेहतर बनाने में बहुत उपयोगी है। मगर इसकी सही मात्रा को ध्यान में रखना बहुत ज़रूरी है। नहीं तो अलसी का अधिक सेवन आपको फायदे की बजाय नुकसान पहुंचा सकता है। 

आपको दिनभर में २ से ३ चम्मच ही अलसी का सेवन ही करना चाहिए।  क्यों की ५० ग्राम अलसी में लगभग १३ ग्राम तक फाइबर मौजूद होता है। यह आपकी रोज की जरुरत का १०० % से भी ज्यादा होता है। इसीलिए अलसी के फायदे पाने केलिए इसकी सही मात्रा का सेवन करना जरुरी है। 

आईये जानते है अलसी के अधिक सेवन से क्या नुकसान होना संभव है। 

रक्तचाप के रोगी जो की रक्तचाप कम करने की दवा ले रहे हैं। उनको इसका सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि अगर वह इसका सेवन करते हैं तो उनका रक्तचाप अधिक कम हो जाता है। इसीलिए जो रक्तचाप के मरीज हैं उनको अलसी का सेवन नहीं करना चाहिए। 

इसके आलावा गर्भवती महिलाएं, स्तनपान कराने वाली महिलाएं उनको भी इसका प्रयोग नहीं करना चाहिए। 

खून संबंधी परेशानी होने पर भी अलसी के सेवन से दूर रहना चाहिए। क्योंकि अलसी का सेवन खून को पतला कर देती है। 

इसके आलावा मधुमेह की दवा ले रहे हैं उनके खून में शर्करा का स्तर अलसी के चलते बहुत नीचे गिर सकता है।  क्योंकि यह शुगर लेवल को कम करता है तो मधुमेह के रोगी भी इसका प्रयोग डॉक्टर या वैध की सलाह ले कर  ही करें। 

और जानिए >>

तो आपने देखा अलसी का सेवन आपके स्वास्थ को बेहतर बनाने और रोगों को दूर करने में कितनी उपयोगी और फायदेमंद है। आपको आपके रोजाना आहार में अलसी को शामिल कर इनके फायदें जरूर उठाने चाहिए। 

तो इस लेख में आपने अलसी खाने के फायदे और उपयोग के तरीके के बारें में जानकारी प्राप्त की। इसी के साथ आपने सके कुछ नुकसान के बारें में भी  जाना। 

आपको इस लेख से संबंधित कोई जानकारी है या फिर आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो निचे कमैंट्स में हमें जरूर बताएं। आपकी जानकारी किसी  को उपयोगी हो सकती है। 

यदि आपको यह लेख अलसी ( Flax Seeds) खाने के फायदे और उपयोग के तरीके अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ अन्य शोशियल मीडिया Facebook और Whatsapp  पर जरूर शेयर करें। 

हमारे धरती की पेड़- पौधों और जड़ीबूटी की ऐसी ही जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट Hindiplant पर क्लिक करें।