चम्पा के अविश्वसनीय फायदे एवं उपयोग।


चम्पा के अविश्वसनीय फायदे एवं उपयोग। 


चम्पा के फूल को अधिकतर सभी जानते ही हे, यह पिले रंग के और बहोत ही मनमोहक सुगंध वाले होते है। भारत देश में इन चम्पा के फूल का उपयोग पूजा - पाठ आदि में किया जाता है। 

धार्मिक महत्व से भी चंपा के फूल को उत्तम माना गया है। चम्पा के फूल का आयुर्वेद में भी उल्लेख मिलता है। आयुर्वेद में चम्पा को जड़ी - बूटी स्वरुप भी माना गया है। 

चम्पा के पेड़ का उपयोग कई तरह की औषधि बनाने में किया जाता है। चम्पा के झाड़ से घरलू उपचार भी संभव है। इसका उपयोग करके आप कई तरह के रोगों को दूर कर सकतें है। 

क्या आप जानतें है, चम्पा के औषधीय गुणों के  बारे में, चम्पा के आयुर्वेदिक गुणों को देखते हुवे चम्पा के उपयोग से आप अविश्वसनीय फायदे लें सकते है। 

इसीलिए आज के इस विषय में हम चम्पा के विषय में विस्तार से जानकारी प्राप्त करेंगे। तो चलिए शुरू करते हे हमारा आज का लेख( Champa benefits and uses in  hindi) चम्पा के अविश्वसनीय फायदे एवं उपयोग।

चम्पा की जानकारी :


चम्पा का पौधा हमेंशा हरा भरा रहता है। यह पौधा किसी भी ऋतू में अपने पत्ते को झड़ने नहीं देता। इसकी ऊंचाई लगभग ७ से ८ मीटर तक होती है। 

चम्पा के पेड़ के पत्ते हरे रंग के तथा नुकीले और चमकदार होते है। यह २५ से ३० सेंटी मीटर तक लम्बे और लगभग ८ से १० सेंटीमीटर चौड़े होते है। 

चम्पा के फूल पिले रंग के ५ पंखुड़ी वाले और अत्यधिक मनमोहक खुशबु से भरपूर होते है। 

चम्पा के फल की बात करें तो यह भूरे रंग के और ८ से १० सेंटीमीटर लम्बे तथा अंडाकार आकार के होते है।   

चम्पा के बीज गोल आकार के चमकीले होते है, तथा पकने पर  यह हलके लाल या  गुलाबी रंग के हो जाते है। 


चम्पा के फायदे एवं उपयोग :

चहेरे की झाईयों में लाभ करता है चंपा के उपयोग 


चहेरे की  झाइयों को दूर करने के लिए इसके फूलों को नींबू के रस में पीसकर पेस्ट बनाकर चेहरे पर लेप किया जाए तो आप देखेंगे  धीरे-धीरे चहेरे की  झाइयां मिट जाती हैं और चहेरा निखारने लगता है। 

पित्त दूर करता है चंपा फ्लावर :


पित्त और इससे होने वाली समस्यां में इस के ताजे फूलों को शहद के साथ मिलाकर चाटने से पित्त की वजह से   होनेवाला मानसिक तनाव और पागलपन दूर होता है। 

पेट के कीड़ों में राहत देता है चंपा का पौधा :


पेट में कीड़े (कृमि रोग) होने पर चम्पा के पौधे के ताजे पत्तों को शहद में मिलाकर खाने से पेट की अन्य परेशानी में तो फायदा होता ही है साथ ही इस प्रयोग को करने से पेट के कीड़े से भी आराम मिलता है। 

पेट दर्द में फायदेमंद है चंपा के फूल :


पेट में दर्द होने पर चंपा के फूलों का काढ़ा बनाकर पीने से दर्द मिट जाता है। या फिर इसके पत्ते का रस शहद मिलाकर लेने से भी पेट दर्द से आराम मिलता है। 

फटी एड़ी को ठीक करें चंपा पेड़ के उपाय :


पैर में फटी एड़ी के इलाज के लिए  चंपा बीज इसके फल और थोड़ी मात्रा में मुर्दार संघ इन सभी को अच्छी तरह से पेस्ट बनाकर फटी एड़ियों पर उपयोग करने से बहुत ही अच्छा लाभ होता है। 

दस्त दूर करें चंपा फूल का पौधा :


दस्त की परेशानी  से छुटकारा पाने के लिए  चम्पा के पेड़ की  छाल और अतीस के चूर्ण का सेवन करके ऊपर से छाछ का सेवन करें तो यद् दस्त की समस्यां में बहुत बढ़िया लाभ होता है। 

खांसी मिटाये चंपा का पौधा :


सुखी खांसी दूर करने के लिए चंपा के पौधे की छाल का चूर्ण शहद के साथ चाटने से खांसी ठीक होने लगती है। 

बुखार देय करें चंपा फूल का पौधा :


बुखार होने पर इसके छाल का काढ़ा बनाकर यदि पियें तो बुखार दूर होता है। 

 जोड़ों का दर्द दूर करें चम्पा का उपयोग :


जोड़ों में दर्द और सूजन होने पर चम्पा के तेल की मालिश करें और ऊपर से इसी के पत्ते को गर्म करके बांधे तो यह प्रयोग बहुत अच्छा लाभ करता है। 

पथरी में राहत दिलाये चंपा का पौधा :


मूत्राशय में पथरी होने पर में इसके फूलों की ठंडाई बनाकर पीने से मूत्र बार - बार होती है। इससे गुर्दे में पथरी हो तो मूत्र मार्ग से  निकल जाती है। 

हमारे शारीरक कई रोगों में चम्पा के तेल से भी लाभ होता है। आयी देखते है चम्पा का तेल कैसे बनायें :

चम्पा के तेल बनाने की विधि :


चम्पा का तेल  बनाने के लिए इसके पंचांग को  तिल के तेल उबालें  जब यह तेल का चौथा हिस्सा रह जाए तभी इसे उतारकर ७  दिन के लिए रख लें। 

अब इसे छानकर आप एक बर्तन में भरकर रख लें अब आपका चम्पा तेल तैयार है यह तेल कुष्ठ के रोगों में बहुत लाभदायक होता है। इसी के साथ और भी कई रोगों में उसका प्रयोग किया जाता है। 

आशा करता हूँ, आपको इस लेख के माधयम से  चंपा फूल के बारे में जानकारी अच्छी तरह से जानने को  मिली होगी। साथ ही आपने जाना चम्पा के अविश्वसनीय फायदे  हमारे लिए कितने उपयोगी और फायदेमंद है। 

इसी के साथ आपने  कदम खाने के फायदे के बारें में भी जाना। मुझे उम्मीद है आपको चम्पा पेड़ के औषधीय गुण और इसके फायदे  के साथ साथ चम्पा ट्री का उपयोग और लाभ के बारें में लिखा यह लेख अच्छा लगा होगा। 

यदि आपका चम्पा पेड़ से सम्बंधित कोई सवाल या सुझाव हो तो  निचे कमैंट्स में हमें जरूर बताएं। यदि आपको यह लेख  चम्पा के अविश्वसनीय फायदे एवं उपयोग अच्छा लगा हो और इस लेख से कुछ जानने मिला हो। 

तो इसे दूसरों के साथ सोशल मीडिया Facebook और Whatsapp पर जरूर शेयर करें। हमारी धरती की ऐसी ही रोचक वनस्पति के बारें में जानने के लिए पर यहॉ Hindi Plant  पर क्लिक करें।